Breaking News

चीन न तो लड़ेगा और न ही करेगा लड़ने का दुस्साहस: प्रो० श्री प्रकाश मणि त्रिपाठी

अखिलभाग्य महाविद्यालय रानापार, गोरखपुर द्वारा आयोजित राष्ट्रीय वेबीनार में इन्दिरा गाँधी जनजातीय केन्द्रीय विश्वविद्यालय ,अमरकंटक के कुलपति प्रो० श्री प्रकाश मणि त्रिपाठी ने व्यक्त किया अपने विचार।

दी० द० उ० गोरखपुर विश्वविद्यालय के राजनीतिशास्त्र विभाग के असि० प्रोफेसर डॉ० अमित उपाध्याय ने भी वक्ता के रूप में अपने विचार व्यक्त किए।

बांसगांव संदेश ब्रह्मपुर : चीन न तो लड़ेगा और न ही करेगा लड़ने का दुस्साहस , उक्त विचार अखिलभाग्य महाविद्यालय रानापार, गोरखपुर द्वारा आयोजित राष्ट्रीय वेबीनार में इन्दिरा गाँधी जनजातीय केन्द्रीय विश्वविद्यालय ,अमरकंटक के कुलपति प्रो० श्री प्रकाश मणि त्रिपाठी ने व्यक्त किया। उन्होंने भारत-चीन संबध के ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य का विश्लेषण करते हुए कहा कि चीन को यह अच्छी तरह समझ लेना चाहिए कि यह 1962 वाला भारत नहीं है। पिछले साठ वर्षों में भारत आर्थिक और सामरिक दृष्टिकोण से समृद्ध हुआ है। पिछले दस वर्षों में भारत ने अमेरिका , ब्रिटेन , यूरोपीय संघ , अफ्रीकी देशो तथा पश्चिम एशियाई देशों से अपने संबध बेहतर किया है भारत की कनेक्टिविटी. सेन्ट्रल एशिया से बढ़ी है जिसकी वजह से चीन परेशान है। यह मोदी सरकार की कूटनीति का ही प्रतिफल है कि हम अरब जगत और इजराइल दोनों के साथ अपने संबधो को बेहतर कर रहे हैं। गलवान में भारत के रुख के कारण चीन के साथ ही दुनिया यह समझने लगी है कि भारत अब एलएसी की जगह एलओसी पर ही बात करेगा।दूसरे वक्ता के रूप में स्ट्रैटजिक मामलों के विशेषज्ञ कैप्टन अमरनाथ पाठक ने अपने उद्‌बोथन में कहा कि भारत एक्ट ईस्ट पालिसी, क्वाड के जरिये चीन के स्टिंग आफ पर्ल के चक्रव्यूह को तोड़ सकता है। भारत आत्मनिर्भर होकर ही चीन से आर्थिक मोर्चे पर लड़ सकता है। अन्डमान निकोबार को नेवल बेस के रूप में विकासित करके हिन्द महासागर में अपने सामरिक क्षमता बढ़ाकर चीन को काउंटर कर सकता है। आन्तिम वक्ता के रुप में बोलते हुए दी० द० उ० गोरखपुर विश्वविद्यालय के राजनीतिशास्त्र विभाग के असि० प्रोफेसर डॉ० अमित उपाध्याय ने कहा कि चीन को आर्थिक तौर पर कमजोर कर के अलग -थलग किया जा सकता है। उन्होंने चीन की विस्तारवादी नीति का उल्लेख करते हुए कहा कि उसे आर्थिक रुप से पंगु करके उसकी विस्तारवादी नीति पर रोक लगायी जा सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर चीन को रोकना है तो भारत को अपने पड़ोसियों दक्षिण पूर्व एशिया के देशों के साथ ही साथ क्वाड देशों और अपने परंपरागत मित्र रूस के साथ संबघो को और प्रगाढ़ करना पड़ेगा।वेबीनार का संचालन डॉ० ब्रजेश कुमार मिश्र तथा आभार ज्ञापन के० एन० पाठक ने किया। वेबीनार को सकुशल सम्पन्न कराने में संयोजक डॉ० अभय प्रताप सिंह ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

वेबिनार में भाग लेने वाले मुख्य वक्ता गण

About Ram Sanehi

Ram Sanehi

Check Also

बिस्मिल भवन में मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण स्थान्तरित किया,

गोरखपुर।। बहुत संघर्षो के बाद जिला प्रशासन विवश होकर बिस्मिल भवन में मोटर दुर्घटना दावा …

मारपीट व छेडख़ानी का अभियुक्त गिरफ्तार

गोरखपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगेंद्र कुमार के अपराधियों के खिलाफ अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक …

गोरखपुर पुलिस द्वारा किये गये सराहनीय कार्य ,

गोरखपुर।। दिनांक- 24.11.2020 गोरखपुर पुलिस द्वारा किये गये सराहनीय कार्य का विवरणः- 1. थाना रामगढ़ताल …

गोरखपुर पुलिस द्वारा किये गये सराहनीय कार्य ,

गोरखपुर।। दिनांक- 24.11.2020 गोरखपुर पुलिस द्वारा किये गये सराहनीय कार्य का विवरणः- 1. थाना रामगढ़ताल …

मारपीट, धमकी व छेड़खानी के आरोप में अभियुक्त गिरफ्तार,

गोरखपुर।। थाना गोला दिनांक 24-11-2020वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गोरखपुर* के निर्देशन में, पुलिस अधीक्षक दक्षिणी के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: