Breaking News

नहीं रहे पूर्व ब्लॉक प्रमुख ब्रह्मपुर सन्तू प्रसाद यादव, विनम्र श्रद्धांजलि

बांसगांव संदेश ब्रह्मपुर : ईमानदारी के पर्याय एम पी कॉलेज गोरखपुर में शिक्षक रहे पूर्व प्रमुख (ब्रह्मपुर) सन्तू प्रसाद यादव का निधन आज रविवार की भोर में 4 बजे हो गया। श्री यादव सांस लेने की दिक्कत के कारण 5 दिनो से मेडिकल कॉलेज में जीवन रक्षक प्रणाली पर थे।

74 वर्षीय सन्तू प्रसाद यादव!!! ईमानदारी जिनका आभूषण ,अक्खड़ स्वभाव,बेहद सम्वेदनशील,स्पष्टवादी यह परिचय है 80 के दशक के गोरखपुर जनपद के सियासी हस्ताक्षर एम पी इंटर कॉलेज के पूर्व शिक्षक /ब्रह्मपुर के पूर्व प्रमुख संतू प्रसाद यादव का।
सन्तू प्रसाद यादव 54 केजी भार वर्ग में स्टेट चैंपियन पहलवान रहे । कबड्डी, तैराकी में कुशल थे । भरी राप्ती नदी को तो कई बार अपने मित्र राम चन्द्र यादव के साथ तैर के पार किए थे ।
1967 मे महंथ दिग्विजय नाथ जी के चुनावी सभा के गीत ने बिशुनपुरा से एम पी इंटर कॉलेज में ला दिया।
योगेन्द्र यादव जिज्ञासु ने उनसे मुलाकात के एक संस्मरण में लिखा है कि ” बात जब आगे बढ़ी तो कहने लगे कि 1995 में नेताजी ने लखनऊ बुलाकर कहा कि तुमको अध्यक्ष जिला पंचायत बनवाना चाहता था लेकिन तुम तो सदस्य का चुनाव हार गए।
नेता जी कि जब बात पूरी हुए तो इन्होंने कहा कि मैं हारा नही अपनो ने हरा दिया।
बात बात में ये बुढ़िया बारी के रामपति यादव की चर्चा कर रहे थे। बात -चीत करते -करते शून्य में खो गये आंखों में पानी तो इतना कि आज के सियासत से अंतहीन सवाल करते हुए निकल पड़े। गौर तलब है कि स्वर्गीय राम पति यादव 1957 से 2000 तक प्रमुख रहे।
अपने को संभालते हुए कहे —‘गोरखपुर में तो दीप नारायण जी समाजवाद के कारखाना थे ‘जब तक वे अध्यक्ष थे मैं उपाध्यक्ष।उनके चले जाने के बाद मैं कार्यालय जाना छोड़ दिया क्योकि आज के समाजवादी??????
गोरखपुर जनपद के लोहिया वादियों में स्वर्गीय दीप नारायण यादव ,फिरंगी प्रसाद विशारद और संतू प्रसाद यादव वास्तव में युग बोध है। आप लोगो को सुनते हुए सयाना हुआ।”
1993 में माईधिया पोखर मैदान में नेता जी बतौर सी एम आये थे उस चुनावी सभा के मंच की अध्यक्षता हो या तमकोही कोठी मैदान में नेताजी के सभा मे संतू जी का भाषण आज भी हमको याद है।
अब उनकी सियासी विरासत उनके चचेरे भाई #दयानंद विद्रोही सदस्य जिला पंचायत के हाथों में है।राप्ती-गोर्रा द्वाबे के 52 गांवों में सबसे असरदार व्यक्तित्व जिसने कछार के विकास का रोड मैप तैयार किया,स्वावलम्बी इंटर कॉलेज बिशुनपुरा और तमाम विद्यालयों के प्रवंध कार्यकारणी के विभिन्न पदों पर आसीन संतू प्रसाद एक मुकम्मल किताब हैं जिनसे सबक लेना चाहिए जिनको पढ़ना चाहिए।
स्वभाव से थोड़े अक्खड़ बिना लाग लपेट वाले प्रमुख जी आज नही रहे।

यादवेन्द्र यादव, योगेन्द्र यादव जिज्ञासु, छत्रधारी यादव, दयानंद यादव विद्रोही सहित सैकड़ो जन सोशल मीडिया पर गहरा दुःख प्रकट कर रहें हैं।

About Ram Sanehi

Ram Sanehi

Check Also

आबकारी विभाग की कार्यवाही
नकली देशी विदेशी शराब के ढक्कन बरामद,

गोरखपुर।। जिलाधिकारी के निर्देशानुसार आबकारी विभाग टीम को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। आबकारी …

फरार वांछित पशु तस्कर गिरफ्तार 01 अदद देशी तमन्चा व 01 अदद जिन्दा कारतूस बरामद

गोरखपुर।। थाना बड़हलगंज दिनांक 23.11.2020 गोरखपुर।। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद गोरखपुर के द्वारा अपराधियों के …

पिछड़ा वर्ग संयुक्त संघर्ष मोर्चा मध्यप्रदेश की प्रांतीय बैठक का आयोजन 30 नवम्बर,

“बैठक आमंत्रण”पिछड़ा वर्ग संयुक्त संघर्ष मोर्चा मध्यप्रदेश(पिछड़ा वर्ग के संगठनों एवं जातीय संस्थाओं का साझा …

मानसिक प्रताड़ना ने ली नवयुवक की जान,

उत्तरप्रदेश।। लालगंज। प्रतापगढ ।। प्रतापगढ़ जिले के लालगंज तहसील से जहां पर आज सुबह एक …

यूपी डीजीपी ने कोतवालों, थानेदारों की मनमानी पोस्टिंग को लेकर जिले के अफसरों को कड़ी फटकार लगाई,

उत्तरप्रदेश।।लखनऊ। । यूपी डीजीपी ने कोतवालों, थानेदारों की मनमानी पोस्टिंग को लेकर जिले के अफसरों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: