Breaking News

साहित्य

5 जून: विश्व पर्यावरण दिवस पर विशेष……

बांसगांव संदेश….. आज विश्व पर्यावरण दिवस है। आज के दिन पूरे विश्व में पर्यावरण संरक्षण से सम्बन्धित कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। आइए जानते हैं क्यों मनाते हैं इस दिन यह कार्यक्रम और क्यों ज़रूरत पड़ी इसे मनाने की…. पर्यावरण को सुधारने हेतु यह दिवस महत्वपूर्ण है जिसमें पूरा विश्व रास्ते में खड़ी चुनौतियों को हल करने का रास्ता निकालता …

Read More »

साहित्यशाला में पढ़िए डॉ. शोभित श्रीवास्तव की कविता

ये चीर हरण मानवता का कहीं लहू तुम्हारा मांग न ले अभिमान इस बाहुबल का कहीं लाखो का बलिदान न ले हे कलियुग के धृतराष्ट्रों ना स्वांग करो अंधेपन का ना मौन की चादर ओढ़े तुम रसपान करो नंगेपन का हे भीष्म नया लो प्रण कोई मानवता लेटी शैया पे खुद डूब रही गंगा मईया निर्लज्ज सभा की नैय्या पे …

Read More »

संडे स्पेशल:पढ़िए कोरोना त्रासदी में पलायन को मजबूर श्रमिकों के दर्द को बंया करती डॉ.शोभित श्रीवास्तव की मार्मिक कविता

भूख से इनकी रिहाई, हो न जाए जब तलक मुल्क की आजादी मुक्कमल, मुमकिन नहीं है तब तलक जब तलक पैरों के छाले, रास्तों को नापेंगे जब तलक अखबार झूठी, शौर्य गाथा छापेंगे इनके क़दमों को मिल न जाए,मंजिल जब तलक मुल्क की आजादी मुक्कमल मुमकिन नहीं है तब तलक जब तलक बेघर है ये, मजबूर हैं, मजलूम है जब …

Read More »

मजदूर दिवस पर समर्पित कविता:

ले मुझे पहचान तू, मजदूर हूं मैं… सभ्य मानव की सभा की धूर हूं मैं।ले मुझे पहचान तू मजदूर हूं मैं।। रे मनुजता! देख मुझको ध्यान से,दे मुझे भी पथ्य तू सम्मान से।बालपन से की निरन्तर साधना,नित्य श्रम की अनवरत आराधना।।सभ्यता की श्रृंखला से दूर हूं मैं।ले मुझे पहचान तू…..।। बिन कथानक, बिन कहा संवाद हूं मैं।कुछ स्वजन के व्यंग्य …

Read More »

रूद्रपुर महोत्सव का दो दिवसीय कार्यक्रम सम्पन्न हुआ एक बार फिर नेशनल डान्स आकादमी रुद्रपुर ने साबीत कर दिया कि वे बेस्ट है ।

रूद्रपुर महोत्सव का समापन भी शानदार रहा जिसमें कई सारे अवॉर्ड और सर्टिफिकेट दिये गए वही फेमस हो चुकी नेशनल डान्स अकादमी की बालिका आस्था गुप्ता जो महज 4 साल की है उसने डान्स में पहला स्थान प्राप्त किया। और उसका श्रेय अपने गुरू अभय सर् को दिया। जो कि नेशनल डान्स अकादमी के संस्थापक भी हैं। अभय सर् का …

Read More »